what is subconscious mind in hindi – अवचेतन मन क्या है [ full detail ]

Photo of author

By Aditya Kumar

5/5 - (3 votes)
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

आज हम एक बहुत ही रहस्यमय और रोमांचक विषय पर बात करेंगे – “अवचेतन मन“। क्या आपने कभी सोचा है कि हमारा मन हमारी चेतना के परे कुछ ऐसी शक्तियों से भरा होता है जिन्हें हम नहीं देख सकते, परंपरागत तरीके से नहीं समझ सकते, और फिर भी वो हमारे दिन-रात के कार्यों को प्रभावित करते हैं? अवचेतन मन हमारे जीवन में बड़ा ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, और इसके बारे में जानना आपके लिए बेहद फायदेमंद होगा।

इस ब्लॉग में, हम अवचेतन मन के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे। हम यह समझेंगे कि अवचेतन मन क्या होता है, इसके कार्य कैसे होते हैं, और हमारे जीवन में इसका क्या महत्व है। तो चलिए, इस रोमांचक सफर पर साथ चलें और अवचेतन मन के रहस्यों को जाने ।

अवचेतन मन (subconscious mind)

अवचेतन मन क्या होता है?

अवचेतन मन, जिसे अंग्रेजी में “subconscious mind” कहा जाता है, वो एक मानसिक स्तर है जो हमारी सोच का हिस्सा होता है, लेकिन यह पूरी तरह से हमारी चेतना में नहीं होता और न ही पूरी तरह से अचेतन होता है। इसमें वो विचार होते हैं जो हमारी सचेत मन में काम नहीं करते, लेकिन फिर भी हमारे व्यवहार को प्रभावित करते हैं।

मिसाल के तौर पर, आपकी आदतें बिना किसी चेतन प्रयास के तय हो जाती हैं। अगर आप गाड़ी चलाने में माहिर हैं, तो गियर बदलना आपके लिए स्वाभाविक हो जाता है, और आप बातें करते समय भी गाड़ी चला सकते हैं, क्योंकि यह अब आपके अवचेतन मन में ही हो जाता है, जैसे कि कुछ अपने आप हो रहा है।

अवचेतन मन के क्या कार्य होते हैं?

अवचेतन मन के विभिन्न कार्य होते है :-

  • त्वरित प्रतिक्रिया (Reflexes): अवचेतन मन की यह शक्ति हमें आपातकालीन स्थितियों से बचाती है, जैसे कि जब हमारा पैर अग्नि पर पड़ता हैं, तो हम अचानक हटा लेते हैं, सांप को देखकर तुरंत भाग जाते हैं, या सीडी से गिरते हुए अपने आप को संभाल लेते हैं।
    ईश्वर ने हमारे मन मस्तिष्क में एक ट्रांसमीटर और एक रिसीवर फिट कर दिया है, जो इतना शक्तिशाली है कि यह पूरे ब्रह्माण्ड में ऐसी कोई भी मशीन नहीं है जिससे इतनी ताकत से संचालित किया जा सके। लेकिन हम इस मशीन का सही तरीके से उपयोग नहीं जानते, इसलिए हम इसकी शक्तियों से अनजान हैं। इस पद्धति को सीखने की पूरी प्रक्रिया आगामी चरणों में विस्तार से दी गई है।
  • संवादों और भाषा का समय-समय पर अध्ययन (Language Learning): अवचेतन मन आपकी नई भाषाओं को सीखने में मदद करता है, जैसे कि आप किसी नए स्थान पर जाते हैं और वहां की भाषा को समझने का प्रयास करते हैं। इसमें आपके अवचेतन मन आपको नई शब्दों और वाक्यांशों का सीखने में मदद करता है, जिससे आप उस भाषा में सुधार कर सकते हैं।
  • आवाज़ साहित्य के साथ (Listening with Subconscious): जब आप किसी कहानी, संगीत, या बातचीत को सुन रहे होते हैं, तो आपका अवचेतन मन आपकी ध्यान केंद्रित करता है, लेकिन यह आपकी जागरूकता के साथ नहीं होता है। यह आपके दिमाग में विभिन्न ध्वनियों, म्यूजिकल नोट्स, और वाक्यों की गहरी अनुभूति को बढ़ावा देता है।
  • रूपरेखा (Pattern Recognition): अवचेतन मन आपको पैटर्न और व्यवस्था की पहचान में मदद करता है। यह आपको जानवरों की चाल, वस्त्रों के डिज़ाइन, और अन्य गतिविधियों की पहचान करने में मदद करता है, जिससे आप उन्हें अच्छे से समझ सकते हैं।
  • सपनों की रचना (Dream Formation): अवचेतन मन सपनों की रचना में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। जब आप सोते हैं, तो यह आपके सपनों को बनाने में मदद करता है। आपके सपने आपके अवचेतन मन के गहरे विचारों और इच्छाओं का परिणाम होते हैं।
  • अचेतन विचार (Subconscious Thinking): अवचेतन मन रचनात्मकता का एक महत्वपूर्ण स्रोत है। यह हमारे दिमाग में विचारों को उत्पन्न करता है, भले ही हम उन पर ध्यान केंद्रित न कर रहे हों। इन विचारों में कभी-कभी हमारे समस्याओं का समाधान या नए विचार हो सकते हैं।
  • कौशल विकास (Skill Development): अवचेतन मन आपके कौशल विकास को प्रोत्साहित करता है। यदि आप कोई कौशल सीख रहे हैं, तो इसमें यह आपको सीखने की प्रक्रिया को सरल बनाने में मदद कर सकता है और उस कौशल को आपके स्वाभाविक कार्यों का हिस्सा बना सकता है।
  • भविष्य की योजना (Future Planning): अवचेतन मन रचनात्मकता का एक महत्वपूर्ण स्रोत है। यह हमारे दिमाग में विचारों को उत्पन्न करता है, भले ही हम उन पर ध्यान केंद्रित न कर रहे हों। इन विचारों में कभी-कभी हमारे समस्याओं का समाधान या नए विचार हो सकते हैं।
  • आंतरिक संवाद (Inner Dialogue): अवचेतन मन हमें अपने विचारों, भावनाओं, और प्रेरणाओं को समझने में मदद करता है। यह हमें अपने व्यक्तिगत विकास के लिए आवश्यक निर्णय लेने में भी मदद करता है।
  • त्रिकाल ज्ञान: हमारा अवचेतन मन त्रिकालदर्शी है। यह भूत, वर्तमान और भविष्य को जानता है। यह भविष्य की घटनाओं को भांप सकता है और कभी-कभी हमें चेतावनी भी दे सकता है। इसी आधार पर NOSTRADAMUS इतना प्रसिद्द हुआ।
  • EQ ( Emotional Quotient ) भावना का गुणांक: भावनाओं का गुणांक (EQ) एक व्यक्ति की अपनी और दूसरों की भावनाओं को समझने और उनका प्रबंधन करने की क्षमता है। यह सफलता का एक महत्वपूर्ण कारक है, क्योंकि यह हमें दूसरों के साथ प्रभावी ढंग से संबंध बनाने और तनाव को प्रबंधित करने में मदद करता है।
    उच्च IQ सफलता का एक आवश्यक घटक है, लेकिन EQ अधिक महत्वपूर्ण हैं।
    उच्च IQ वाले लोग भी कम EQ के कारण समस्याओं का सामना कर सकते हैं।
    EQ को बढ़ाने के लिए, सकारात्मक भावनाओं को बढ़ाना महत्वपूर्ण है।
  • सही निर्णय (Right Decision): अवचेतन मन एक शक्तिशाली उपकरण है जो सही समय पर सही निर्णय ले सकता है। जब आप किसी कठिन परिस्थिति में हों, तो अपने अवचेतन मन पर भरोसा करें। यह आपके विश्वासों और मूल्यों के आधार पर सबसे अच्छा निर्णय लेगा।
  • लक्ष्य बनाना (Goals Making): आपको जीवन में जो भी पाना है, उसकी एक स्पष्ट और विशिष्ट समय सीमा निर्धारित करें। तभी आपका अवचेतन मन उस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए सही दिशा में काम करना शुरू कर पाएगा।
    उदाहरण के लिए, यदि आप एक वर्ष के भीतर एक नया घर खरीदना चाहते हैं, तो इसे लिखकर रखें। यदि आप 5 वर्षों में एक नई कंपनी शुरू करना चाहते हैं, तो इसे भी लिखकर रखें।
  • हीलिंग पावर (Healing power):अवचेतन मन की हीलिंग पावर एक वास्तविकता है। सकारात्मक विचार और भावनाओं को अपनाकर, हम अपने स्वास्थ्य को बेहतर बना सकते हैं और बीमारियों को ठीक कर सकते हैं।
    उदाहरण: मैंने एक ऐसा व्यक्ति देखा है जिसने लगातार विचार किए और अपने शरीर में कैंसर को उत्पन्न किया था। यह कैंसर इतना गंभीर था कि एम्स हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने भी उम्मीद छोड़ दी थी। फिर उसने लुईस हे की “YOU CAN HEAL YOUR LIFE” नामक पुस्तक पढ़ी, जिससे वह यह समझ गया कि वह अपने भावनाओं और विचारों को बदलकर कुछ कर सकता है। दो महीने बाद, कैंसर जड़ से खत्म हो गया, जिसके कारण डॉक्टर्स हैरान रह गए।
  • दर्द (Pain Control): शरीर के किसी भी अंग का दर्द हमारे अवचेतन मन के के काबू में होता है।
  • स्वास्थ्य (Health): जब भी कोई आपसे पूछता है, “कैसे हों?” तो आप आमतौर पर कहते हैं, “ठीक हूँ”। इसका मतलब है कि आप अपने अवचेतन मन को यह कह रहे हैं कि सब ठीक है, कुछ करने की जरूरत नहीं है। अवचेतन मन हमारे ऑटोनमस नर्वस सिस्टम पर पूरा नियंत्रण रखता है, जो हमारे शरीर के पाचन, श्रावण, हार्मोन उत्पन्न करना, आदि के नियंत्रण के लिए जिम्मेदार होता है। जब हम चेतन मन के माध्यम से कोई नकारात्मक संकेत अवचेतन मन को देते हैं, तो बीमारी पैदा हो सकती है।
    अच्छे स्वास्थ्य के लिए आप अपने अवचेतन मन को स्वयं को अच्छे सुझाव देने के लिए प्रोत्साहित कर सकते हैं। आप नीचे दिए गए आटो सुझाव को बोल सकते हैं: “मेरा स्वास्थ्य कल जितना अच्छा था, आज उससे भी और ज्यादा अच्छा है,और कल और भीअच्छा रहेगा।

इस तरह, अवचेतन मन आपके दिन-प्रतिदिन के विभिन्न पहलूओं में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, और आपकी सोच और व्यवहार पर भी प्रभाव डालता है, भले ही यह आपकी ज़िन्दगी की सुनी जाने वाली बातों को हमेशा के लिए याद नहीं रखता है।

इसे भी पढ़े:-

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Hi! I'm Aditya, and I'm passionate about crafting engaging content that informs, entertains, and inspires. With a keyboard as my canvas and words as my paint, I bring stories to life through my blog. Whether it's sharing insights on the latest trends, providing valuable tips, or narrating captivating tales, I'm dedicated to making every word count.

Leave a Comment

%d bloggers like this: